. “लज़्ज़ते ग़म बढ़ा दीजिये, आप फिर मुस्कुरा दीजिये ।”


Loading
0 0