. “सिर्फ तुम ही हो जो मुझको समझती नही, और यहाँ सब मेरे “स्टेटस” पढते पढते दिवाने हो जाते हे ।”


Loading
0 0