. “फक्र करना खुद पर, कि टूट कर चाहा था किसी ने वरना थाम कर देख लेना किसी गैर का दामन ।”


Loading
0 0